पोस्ट शेयर करे

बलौदाबाजार, वैक्सीनेशन को लेकर ग्रामीण अभी भी अफवाहों के शिकार हैं और वैक्सीन लगवाने आगे नहीं आ रहे हैं। ग्रामीणों में डर है तो कहीं प्रशासन की भी लापरवाही ने भी वैक्सीनेशन को अफवाहों के भंवर में झोंक दिया है । वैक्सीनेशन से पहले कोरोना टेस्ट नहीं किया गया जिसकी वजह से लच्छनपुर के 85 वर्षीय पंचूराम वर्मा ने बुखार की हालात में ही वैक्सीन लगवा ली, बाद में वे पाॅजिटिव निकले और 10 दिनों बाद ही उनकी मौत हो गई। ऐसी ही सरकारी लापरवाही भी टीके के पीछे फैली अफवाहों को हवा दे रही है। लोगों के दिमाग में ऐसे उदाहरण भले ही सीमित हों पर अंदर तक घर कर चुके हैं। नतीजा इस मौत के पहले 2500 आबादी वाले इस गांव में 300 लोगों ने वैक्सीन की पहली डोज लगवा ली थी मगर उसके बाद दूसरी डोज लगवाने कोई भी नहीं पहुंचा। स्वास्थ्य विभाग की अधिकारी वीणा वर्मा जब टीम के साथ लच्छनपुर में चल रहे मनरेगा कार्यक्रम के दौरान लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करने पहुंचीं तो मजदूरों ने सवाल किया कि हमें कुछ हो गया तो इसकी गारंटी कौन लेगा? महिला अधिकारी के काफी प्रयासों के बावजूद भी वे वैक्सीनेशन के लिए तैयार नहीं हुए। हालांकि कुछ लोग तैयार थे मगर उन्हें वैक्सीन लगवाने से रोकने वालों ने अफवाहों की बे-सिर पैर की बातें बता दीं, जिससे वे पीछे हट गए। इसके बाद इस गांव के अलावा इससे लगे गांवों में भी अफवाहों को बल मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

बिलासपुर में दोस्त की सास से दुष्कर्म, पत्नी को भी बनाया शिकार

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेबिलासपुर, सरकंडा क्षेत्र में रहने वाले युवक ने पहले अपने ही…

सेक्स रैकेट का भंडाफोड़; मकान मालकिन समेत महिला-पुरुष गिरफ्तार

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेमहासमुंद. कॉलेज रोड स्थित एक मकान में सेक्स रैकेट का…

हाईकोर्ट का निर्देश-सहायक शिक्षक और व्याख्याता को 90 दिन में एरियर्स दें

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेबिलासपुर, हाईकोर्ट ने शिक्षकों की याचिका पर सुनवाई करते हुए…

जीपी सिंह के घर से कोड वर्ड वाली डायरी जब्त,तंत्र-मंत्र के सबूत मिले

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेरायपुर, छत्तीसगढ़ के सीनियर IPS अफसर जीपी सिंह के रायपुर…