पोस्ट शेयर करे

नईदिल्ली, भारत सरकार को इसी महीने भारतीयों के स्विस बैंक अकाउंट की डिटेल का तीसरा सेट मिल जाएगा। ऑटोमैटिक एक्सचेंज ऑफ इन्फॉर्मेशन समझौते के तहत स्विट्जरलैंड स्विस बैंक के भारतीय खातेदारों की जानकारी सरकार को देगा। इसमें पहली बार भारतीयों के मालिकाना हक वाली अचल संपत्ति का डेटा भी शामिल होगा।

अधिकारियों ने रविवार को बताया कि विदेशों में कथित रूप से जमा काले धन के खिलाफ सरकार की लड़ाई में यह मील का पत्थर है। इसके तहत स्विट्जरलैंड में भारतीयों के फ्लैट और अपार्टमेंट के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी। साथ ही ऐसी संपत्तियों से होने वाली कमाई पर टैक्स देनदारियों का भी पता चलेगा।

स्विट्जरलैंड का यह कदम अपने छवि सुधारने के लिहाज से भी अहम है। स्विस बैंकों को काले धन की सुरक्षित पनाहगाह के तौर पर जाना जाता है। यह देश अपनी इस छवि से निजात पाने के लिए और खुद को स्पेशल ग्लोबल फाइनेंशियल सेंटर के तौर पर दोबारा स्थापित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

RBI का ऐलान;अब नहीं मिलेगा 2000 रुपये का नोट, नोटबंदी के बाद लाया गया था

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेनई दिल्ली, बहुत जल्द आपको मार्केट से 2000 के नोट…

मीडिया समूह दैनिक भास्कर पर आयकर की छापेमारी, कई जगहों पर चल रहा है तलाशी अभियान

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करे नई दिल्ली, समाचार एजेंसी ANI ने जानकारी दी है…

7th Pay Commission: सरकारी कर्मचारियों को 3 किस्तों में मिलेगा 28% डीए

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेनई दिल्ली. आज का दिन लाखों केंद्रीय कर्मचारियों (Government Employee’s)…

भारत में लॉकडाउन और पाबंदियों से अप्रैल में 75 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई नौकरियां, बेरोजगारी दर चार माह में सबसे ज्यादा

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेमुंबई, कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर और उसकी रोकथाम के लिए…