पोस्ट शेयर करे


रायपुर, छत्तीसगढ़ राज्य खाद्य आयोग के अध्यक्ष गुरप्रीत सिंह बाबरा ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2012 के प्रावधानों के क्रियान्वयन की समीक्षा बैठक में पूरक पोषण आहार योजना, मध्यान्ह भोजन योजना, मातृत्व लाभ योजना की जानकारी ली। उन्होंने उचित मुल्य के दुकानों में खाद्यानों का नमूना प्रदर्शित करने एवं निगरानी समिति गठित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

श्री बाबरा ने कहा कि पात्र हितग्राहियों के हित का ध्यान में रखते हुए लंबित प्रकरणों का शीघ्र निराकरण किया जाए। आंगनबाड़ी केन्द्रों में छोटे बच्चे, गर्भवती और शिशुवती महिलाएं आती हैं, इन पर संक्रमण का प्रभाव जल्दी होता है। अतः इनके पोषण, स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिए अतिरिक्त सतर्कता बरतने की जरूरत है। उन्होने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों की नियमित मॉनिटरिंग करने के साथ बच्चों, गर्भवती महिलाओं और माताओं को गुणवत्ता पूर्ण गर्म और ताजा भोजन पोषण आहार दिया जाए। आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों को दिए जाने वाले मीठे सुगंधित दूध को संक्रमण से बचाने के लिए परिवहन और संग्रहण के उचित प्रबंध करने के निर्देश दिए।  


बाबरा ने बैठक में कहा कि  प्रदेश के सभी आंगनबाडी केन्द्रों में टोल फ्री नम्बर 1967 एवं 18002333663 लिखना एवं बैनर, पोस्टर अनिवार्य किया जाए। उन्होने प्राप्त शिकायतों का निराकरण 15 दिवस के भीतर करने को कहा। स्कुल शिक्षा विभाग के टोल फ्री नम्बर 1800231152 सभी स्कुलों में  प्रदर्शित करने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि माध्यन भोजन में बच्चों को सही मात्रा और गुणवत्ता के साथ भोजन मिले इस पिर विशेष ध्यान दिया जाए। आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति विकास विभाग द्वारा संचालित आश्रम-छात्रावासों में भी सही मात्रा और पौष्टिक आहार मिलें इस पर भी ध्यान दिलाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

प्रदेश के स्कूल सफाई कर्मचारियों में असंतोष;घूम-घूम कर मंत्रियों को उनके वादे भेंट कर रहें है

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेरायपुर, छत्तीसगढ़ राज्य में विधान सभा चुनाव के पूर्व प्रदेश…

54 विभागों में ही 15 हजार अफसर-कर्मचारियों की जरूरत,वित्त विभाग से 4651 पदों की मंजूरी

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करे रायपुर, प्रदेश के 54 विभागों ने इस साल 15 हजार…

दैवेभो के नियमितीकरण हेतु बनाई गई समिति की रिपोर्ट का अता पता नहींं,जल्द नियमित करने की मांग

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेरायपुर , छत्तीसगढ़ दैनिक वेतन भोगी वन कर्मचारी संघ के प्रांत…

प्राचार्य पदोन्नति की वरिष्ठता सूची में त्रुटि; व्याख्याताओं के नाम नीचे-शिक्षकों में नाराजगी

पोस्ट शेयर करे
पोस्ट शेयर करेरायपुर, छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संध ने संचालक…