कृषि

धान खरीदी के लिए कहीं भी बारदाना की कमी नहीं, भीगे बोरे में धान रखें

 खाद्य मंत्री अमरजीत भगत का दावा
प्रदेश में अब तक 94 प्रतिशत धान खरीदी 
गतवर्ष की तुलना में 2.34 लाख ज्यादा किसान बेच चुके है धान

रायपुर, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने आज यहां मंत्रालय में धान खरीदी और उपार्जन केन्द्रों में बारदाना की उपलब्धता की समीक्षा कर बारदाना की समस्या वाले जिला कलेक्टरों से दूरभाष पर बातचीत भी की। श्री भगत ने कलेक्टरों को निर्देश दिए कि जिले के जिन उपार्जन केन्द्रों में धान खरीदी हो चुकी है और बारदाना बच गए हैं , ऐसे खरीदी केन्द्रों से अतिरिक्त बारदाना को कमी वाले खरीदी केन्द्रों में उपलब्ध कराया जाए। 
श्री भगत ने कहा कि कुछ स्थानों में असमय बारीश से बोरा भीग जाने के कारण उसमें रखे धान को दूसरे नए बोरे में भर दिया गया, किन्तु खाली हुए बोरे का उपयोग नहीं हुआ है ऐसे बोरे को सुखाकर धान भरने के उपयोग में लाया जाए। प्रदेश के बहुत से खरीदी केन्द्रों में गतवर्षो की तुलना में ज्यादा धान खरीदी हुई है। इस कारण भी उन केन्द्रों में और ज्यादा बोरा की जरूरत पड़ रही है। श्री भगत ने अधिकारियों से कहा कि जिन स्थानों से बारदाना की कमी की शिकायत आ रहा है वहां बारदाना तुरंत उपलब्ध कराए। 
खाद्य विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने बताया कि प्रदेश में धान खरीदी के लिए निर्धारित अनुमान के विरूद्ध अब तक 81 लाख 53 हजार मीट्रिक टन धान खरीदी हो चुकी है। कुल खरीदे गए धान का 14 हजार 469 करोड़ रूपए का भुगतान किसानों को सीधे उनके बैंक खातों में किया जा चुका है। खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में गतवर्ष की तुलना में दो लाख 34 हजार ज्यादा किसान धान बेच चुकें है। प्रदेश में अब तक 91 प्रतिशत सीमांत किसान अपना धान बेच चुके है। इसी प्रकार 93 प्रतिशत छोटे किसान धान बेच चुकें है। प्रदेश के 94 प्रतिशत बड़े किसान धान बेच चुके है। इस प्रकार कुल 18 लाख पांच हजार किसान अपना धान समर्थन मूल्य पर सहकारी समितियों में बचे चुके है। जबकि गतवर्ष 2018-19 में कुल 15 लाख 71 हजार किसानों ने धान बेचा था।
खाद्य सचिव ने बताया कि कुछ जिलों के धान खरीदी केन्द्रों में बारदाना नही होने की जानकारी मिली है। कोण्डागांव जिले में 18 प्रतिशत अधिक धान की खरीद हुई है। कोण्डागांव जिले के लिए 15 हजार अतिरिक्त नया बोरा भेजे गए। इसके अलावा कांकेर जिले में 7.5 प्रतिशत ज्यादा धान की खरीदी हुई है। कांकेर जिले के लिए पांच हजार बारदाना और भेजा गया है। बीजापुर जिले में 25 हजार बारदाना भेजा गया है। बेमेतरा जिले में पिछले वर्ष खरीदी गई धान के हिसाब से ज्यादा बारदाना उपलब्ध कराया गया है। वर्तमान में बेमेतरा जिले में 52 हजार बारदाना उपलब्ध है। कबीरधाम जिले में भी पर्याप्त बारदाना उपलब्ध है। प्रदेश की कुछ समितियों में किसानों को चौथा टोकन भी जारी किया गया है और चौथा टोकन पर 3.5 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है। खाद्य सचिव ने बताया कि रायपुर जिले में लगभग 98 प्रतिशत धान की खरीदी हो चुकीं है।

Related Articles

2 Comments

  1. 244296 251879Pretty part of content material. I just stumbled upon your weblog and in accession capital to assert that I get actually loved account your weblog posts. Any way Ill be subscribing on your feeds or even I success you access constantly rapidly. 59731

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button