कला-संस्कृति

सांस्कृतिक प्रस्तुतियों ने बिखेरी विविध संस्कृतियों की खुशबू

एग्री युनिफेस्ट 2019 -20 का रंगारंग शुभारंभ , देश भर के 60 कृषि विश्वविद्यालयों के 2500 विद्यार्थी हुए शामिल

रायपुर, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर में आज यहां पांच दिवसीय 20वें अखिल भारतीय अंतर विश्वविद्यालयीन युवा उत्सव ‘‘एग्री युनिफेस्ट 2019-20’’ का भव्य एवं रंगारंग शुभारंभ हुआ। शुभारंभ समारोह की शुरूआत शोभायात्रा से की गई जिसमें एग्री युनिफेस्ट में शामिल 60 कृषि विश्वविद्यालयों के संस्कृतिक दलों ने मनोहारी सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के माध्यम से अपने-अपने प्रांतों की संस्कृतियों की खुशबू बिखेरी।

आयोजन का शुभारंभ भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद नई दिल्ली के उप महानिदेशक (कृषि शिक्षा) डाॅ. आर.सी. अग्रवाल ने किया। शुभारंभ समारोह की अध्यक्षता इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ. एस.के. पाटील ने की। विशिष्ट अतिथि के रूप में विधायक रायपुर ग्रामीण सत्यनारायण शर्मा एवं विधायक धरसींवा श्रीमती अनिता योगेन्द्र शर्मा ने कार्यक्रम की गरिमा बढ़ाई। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के प्रबंध मण्डल के सदस्य आनंद मिश्रा और श्रीमती वल्लरी चन्द्राकर भी इस अवसर पर मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर तथा भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली के संयुक्त तत्वावधान में 20वां अखिल भारतीय अंतर कृषि विश्वविद्यालय युवा महोत्सव (एग्री युनिफेस्ट 2019-20) का आयोजन किया जा रहा है। एग्री युनिफेस्ट 2019-20 में देश भर के 60 कृषि विश्वविद्यालयों के 2,500 विद्यार्थी शामिल हुए हैं। पांच दिवसीय एग्री युनिफेस्ट में विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं का आयोजन किया जाएगा जिसमें प्रतिभागी विद्यार्थियों द्वारा सहभागिता की जाएगी।
शुभारंभ समारोह के मुख्य अतिथि डाॅ. आर.सी. अग्रवाल ने कहा कि भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा विगत 20 वर्षाें से एग्री युनिफेस्ट का आयोजन किया जा रहा है जिसका मुख्य उद्देश्य कृषि छात्रों की अंतरनिहित प्रतिभाओं को सामने लाना तथा विभिन्न संस्कृतियों को मेल-जोल के माध्यम से सामाजिक समरस्ता स्थापित करना है। उन्होंने इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ. एस.के पाटील और उनकी टीम को भव्य समारोह के आयोजन के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि शोभायात्रा के दौरान कश्मीर से लेकर केरल तक सभी राज्यों के प्रतिभागियों ने जो सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी उसने ‘‘अनेकता में एकता’’ की परिकल्पना को साकार किया। समारोह के विशिष्ट अतिथि सत्यनारायण शर्मा ने कहा कि ऐसे आयोजनों से विद्यार्थियों को एक दूसरे के प्रांतों की कला संस्कृति एवं रीति-रिवाजों को जानने का अवसर मिलता है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की संस्कृति में अतिथियों के आवभगत की परंपरा है। उन्होंने उम्मीद जताई कि कृषि विश्वविद्यालय में आए विभिन्न विश्वविद्यालय के दलों को छत्तीसगढ़ की कला, संस्कृति एवं आतिथ्य-सत्कार से रू-ब-रू होने का मौका मिलेगा।
समारोह के अध्यक्ष डाॅ. एस.के. पाटील ने कहा कि यह प्रसन्नता की बात है कि इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय को 20वें अखिल भारतीय अंतर विश्वविद्यालयीन युवा उत्सव एग्री युनिफेस्ट 2019-20 की मेजबानी का सौभाग्य प्राप्त हुआ। उन्होंने एग्री युनिफेस्ट में शामिल होने वाले सभी विश्वविद्यालयों के विद्यार्थियांे एवं टीम मैनेजर का स्वागत करते हुए विश्वास व्यक्त किया कि यह आयोजन ऐतिहासिक सफलता हासिल करेगा।

कार्यक्रम के दौरान इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय द्वारा प्रकाशित एग्री युनिफेस्ट 2019-20 पर केन्द्रित हैंडबुक, स्मारिका एवं अन्य प्रकाशनों का विमोचन किया गया। कार्यक्रम के शुरूआत में इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण एवं आयोजन सचिव डाॅ. जी.के. श्रीवास्तव ने अपने स्वागत भाषण में आयोजन के महत्व, उद्देश्यों और रूप-रेखा पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम के अंत में कृषि महाविद्यालय, रायपुर के अधिष्ठाता तथा कार्यक्रम संयोजक डाॅ. एस.एस. राव ने अतिथियों के प्रति आभार व्यक्त किया।
पांचवे दिन एग्री युनिफेस्ट का समापन समारोह आयोजित किया जाएगा जिसमें विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया जाएगा। समस्त कार्यक्रमों का आयोजन कृषि महाविद्यालय, रायपुर में प्रातः 9 बजे से रात्रि 9ः30 बजे के मध्य किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button