मनोरंजन

चौथा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह रायपुर में 10 से

छत्तीसगढ़ फिल्म एवं विजुअल सोसायटी का आयोजन

आदिवासी- दलित अस्मिता और सामाजिक न्याय को समर्पित होगा

रायपुर. आदिवासी- दलित अस्मिता और सामाजिक न्याय को समर्पित होगा चौथा रायपुर अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह. इस समारोह में इन्ही विषयों पर बनी हुई देश विदेश की चुनी हुई फिल्मों का प्रर्दशन किया जाएगा और उन पर चर्चा की जाएगी।

छत्तीसगढ़ फिल्म एवं विजुअल सोसायटी ने अंतरराष्ट्रीय फिल्म समीक्षक अजित राय को रायपुर अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह का निर्देशक नियुक्त किया है जिन्होंने पहली बार 2015 और 2016 में रायपुर फिल्मोत्सव की शुरुआत की थी। अर्जेंटीना के विश्व प्रसिद्ध निर्देशक पाब्लो सेजार की फिल्म थिंकिंग आफ हिम’ के प्रर्दशन से चौथे रायपुर अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह का शुभारंभ होगा। यह फिल्म नोबेल पुरस्कार से सम्मानित कवि गुरूदेव रवीन्द्रनाथ ठाकुर और विक्टोरिया ओकंपो के प्रेम प्रसंगों पर आधारित है। विक्टर बैनर्जी और राइमा सेन ने इस फिल्म में मुख्य भूमिकाएं निभाई हैं। इंग्लैंड के अवतार भोगल की “आनर कीलिंग” समापन फिल्म होगी जिसमें ब्रिटिश पाकिस्तानी कलाकारों के साथ प्रेम चोपड़ा ने मुख्य भूमिकाएं निभाई हैं।

सुप्रसिद्ध फिल्मकार सुधीर मिश्रा और स्वानंद किरकिरे दस फरवरी को संस्कृति परिसर में चौथे अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह का शुभारंभ करेंगे। दक्षिण कोरिया के बुशान अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह में शोहरत बटोर चुकी तनिष्ठा चटर्जी की फिल्म “रोम रोम में” का विशेष प्रर्दशन किया जाएगा जिसमें नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने मुख्य भूमिका निभाई है। इसी के साथ मशहूर उर्दू लेखक इस्मत चुगताई की याद में राहत काजमी की फिल्म “लिहाफ” का प्रर्दशन किया जाएगा जिसमें मुख्य भूमिका तनिष्ठा चटर्जी ने निभाई है।  

भारतीय मूल के मशहूर ब्रिटिश फिल्मकार अवतार भोगल की फिल्म “आनर कीलिंग” और बांग्लादेश के तौफीक अहमद की”फागुन हवाएं” और कई देशी विदेशी फिल्में रायपुर फिल्मोत्सव का खास आकर्षण होंगी। नंदलाल नायक की आदिवासी लड़कियों की तस्करी और गुलामी परक्ष “धुमकुड़िया”, मुसहर जाति के जीवन पर कामाख्या नारायण सिंह की “भोर”, चरण सिंह पथिक की कहानी पर गजेंद्र श्रोत्रिय की “कसाई”, जान स्टीनबैक की रचना “आफ माइस एंड मैन” पर आधारित यशपाल शर्मा अभिनित “मूसो’ आदि कई फिल्में रायपुर फिल्मोत्सव में दिखाई जाएंगी।

अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर आयोजित हो रहे अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह अमित राय की “रोड टू संगम” का विशेष प्रर्दशन करेगा। रायपुर क्लासिक खंड में हंसल मेहता की ” शाहिद” और सुधीर मिश्रा की ” हजारों ख्वाहिशें ऐसी’ दिखाई जाएगी। पवन शर्मा की ” वनरक्षक” और ” ब्रीणा ” के साथ ही राजा बुंदेला की “अलेक्स हिंदुस्तानी” दिखाई जाएगी जो ओम पुरी की आखिरी फिल्म है. गोवा फिल्मोत्सव में पुरस्कृत अनंत महादेवन की ” माई घाट केस नंबर 103/2005 ” का विशेष प्रर्दशन किया जाएगा।

अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह के संयोजक, रंगकर्मी सुभाष मिश्र जी ने बताया कि भारतीय संविधान में आदिवासी और दलित पिछड़े समुदायों के अधिकारों के बारे में वरिष्ठ फिल्मकार श्याम बेनेगल के सीरियल ” संविधान ” पर अतुल तिवारी मास्टर क्लास करेंगे। फिल्म संगीत पर पंकज राग और फिल्म पत्रकारिता पर एनडीटीवी के एडिटर एंटरटेनमेंट प्रशांत सिसोदिया की मास्टर क्लास होगी। हिंदी सिनेमा में अल्पसंख्यकों की छवियों और राजनीति पर ‘शाहिद” और अलीगढ़’ जैसी फिल्मों के निर्देशक हंसल मेहता और श्याम बेनेगल की “समर” के लेखक अशोक मिश्रा मास्टर क्लास करेंगे। भारतीय फिल्मों में खलनायक की अवधारणा पर प्रेम चोपड़ा से विशेष संवाद आयोजित किया जाएगा। रायपुर अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह में महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर विशेष कार्यक्रम पेश किया जाएगा।

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button