स्वास्थ्य

कैंसर से बचने खाने में न करे रसायनयुक्त वस्तुओ का उपयोग

    एम्स में विश्व कैंसर दिवस पर कई कार्यक्रम

कैंसर की रोकथाम के लिए जागरूकता जरुरी

रायपुर, विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान रायपुर के रेडियोथैरेपी विभाग और नर्सिंग कालेज के तत्वावधान में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए गए। इस अवसर पर विशेषज्ञों ने खाने में कैमिकलयुक्त वस्तुओं का प्रयोग न करने, खेती में पेस्टीसाइड्स का प्रयोग न करने और खाने में अधिक फलों और सब्जियों को शामिल करने और अधिक से अधिक योग एवं व्यायाम करने का आह्वान किया गया जिससे कैंसर के प्रकोप को कम किया जा सके।

कैंसर दिवस पर आयोजित पोस्टर प्रतियोगिता और प्रर्दशनी का उद्घाटन करते हुए एम्स रायपुर के निदेशक प्रो. (डॉ.) नितिन एम. नागरकर ने चिकित्सकों और नर्सिंग ऑफिसर्स से कैंसर के विषय में और अधिक जागरूकता बढ़ाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ और समीपवर्ती राज्यों में कैंसर के कई मरीज एम्स में पहुंच रहे हैं। कैंसर एक जानलेवा बीमारी बनता जा रहा है। यदि इसकी पहचान शुरूआत में कर ली जाए तो रोगियों की जान को आसानी से बचाया जा सकता है। इसके लिए चिकित्सकों को आगे आकर जागरूकता बढ़ानी होगी।

उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत के अंतर्गत केंद्र सरकार सभी प्रकार के कैंसर मरीजों को इलाज उपलब्ध करा रही है। ऐसे में कैंसर रोगियों को बिना किसी देर के सरकारी अस्पताल में स्वयं का इलाज शुरू कर देना चाहिए। इलाज के खिलाफ लगातार जागरूकता फैला कर इस चुनौती का मुकाबला करने की आवश्यकता है। प्रो. नागरकर ने जूनियर डाक्टर्स, नर्सिंग ऑफिसर्स और छात्रों द्वारा कैंसर मरीजों की देखभाल की प्रशंसा करते हुए कहा इसे रोगियों को प्रोत्साहन मिलता है।

इस अवसर पर आयोजित प्रदर्शनी में तंबाकू और इसके उत्पादों से होने वाले विभिन्न प्रकार के कैंसर और इसके इलाज को प्रदर्शित किया गया साथ ही रोगियों से तंबाकू तुरंत छोड़ने का आह्वान किया गया। छात्रों ने एक नाट्य प्रस्तुति के माध्यम से क्रिकेटर युवराज सिंह, अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे और मनीषा कोइराला के केस का उदाहरण देते हुए कहा कि यदि समय पर इलाज और परिजनों एवं समाज का सहयोग मिले तो कैंसर की चुनौती का मुकाबला आसानी से किया जा सकता है। इस अवसर पर आर्गेनिक फार्मिंग उत्पादों, अधिक से अधिक फलों और सब्जियों के सेवन एवं आहार और व्यवहार में परिवर्तन का भी आह्वान किया गया।

नर्सिंग कालेज की ओर से आयोजित सीएनई आई एम एंड आई विल में कैंसर से संबंधित विभिन्न विषयों पर चर्चा की गई। कार्यक्रम में चिकित्सा अधीक्षक डॉ. करन पीपरे, डीन प्रो. एस.पी धनेरिया, डॉ. सिद्धार्थ नंदा, शरून एन.वी., सुमन शिंदे, अब्दुलमुनाफ मुजावर, डॉ. सोलोमन जेम्स और राजेंद्र सिंह उपस्थित थे।

Related Articles

2 Comments

  1. 26528 627484Merely wanna input on few common items, The web site layout is perfect, the articles is genuinely good : D. 144670

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button