स्वास्थ्य

कोरोना; रायपुर जिले के समस्त नगरीय सीमा क्षेत्र में धारा 144 लागू

31 मार्च या आगामी आदेश तक होगा प्रभावशील रायपुर, कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी डाॅ. एस. भारतीदासन ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु जिला रायपुर में स्वास्थ्यगत आपातकालीन स्थिति को नियंत्रण में रखने हेतु दंड प्रक्रिया संहिता 1973 के अंतर्गत धारा 144 (1) तहत शक्तियों का प्रयोग करते हुए प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया है। इनमें जिला रायपुर में स्वास्थ्यगत आपातकालीन स्थिति को नियंत्रण में रखने हेतु विभिन्न प्रकार के सभा, धरना, रैली, जुलूस, धार्मिक, सांस्कृतिक, सामाजिक, राजनीतिक, खेल, कार्यक्रम के आयोजन अवांछित विचरण, सार्वजनिक स्थानों में वैवाहिक तथा अन्य आयोजन, क्लब हाउस, एसोसिएशन बिल्डिंग आदि को प्रतिबंधित किया गया है।
इसी तरह यदि किसी व्यक्ति को लेकर पर्याप्त कारण जानकारी या यह मानने के लिए वह कोरोना वायरस से संक्रमित है या किसी ऐसे व्यक्ति के संपर्क में है जो संक्रमित हो सकता है। इसके लिए अनिवार्य होगा कि ऐसे व्यक्ति द्वारा तत्काल सहयोग कर सारी जानकारी घोषित करें एवं सभी सहयोग निगरानी दल को देगा और निगरानी दल के द्वारा दिए गए मौखिक एंव लिखित निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा। निगरानी जांच निरीक्षण दल द्वारा भौतिक परीक्षण, संगरोध और ईलाज से संबंधित है और ऐसे संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आये हुए अन्य व्यक्ति पर लागू हो ऐसा कोई भी व्यक्ति जो निवारण या ईलाज के इन उपयोगया सहयोग देने से मना करता है अथवा संबंधित जानकारी देने से इंकार करता है या निगरानी दल के निर्देशों का पालन नहीं करता है तो वह भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 270 के दण्ड के लिए भागी होगा।
  किसी व्यक्ति, संस्था, संगठन द्वारा कोरोना वायरस के रोकथाम एवं नियत्रण हेतु जारी किसी भी निर्देश का उल्लंघन किया जाता है तो वह भारतीय दंड संहिता 1860 कि धारा 188 के अंतर्गत दण्डनीय अपराध की श्रेणी के अंतर्गत आता है । किसी व्यक्ति, संस्था, संगठन द्वारा शासन के निर्देशों का उल्लंघन नहीं किया जाएगा। यह प्रतिबंध रायपुर जिले के समस्त नगरीय सीमा क्षेत्र के लिए तत्काल प्रभावशील होगा जो 31 मार्च या आगामी आदेश तक प्रभावशील होगा।  

Related Articles

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button