स्वास्थ्य

कोरोना से बचाव का सबसे अच्छा तरीका वायरस के संक्रमण से बचना

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा एडवाइजरी जारी

कोरोना वायरस संबंधी सवाल और समाधान

रायपुर, 2019 नॉवेल कोरोना वायरस के चाइना में दस्तक और वहां इसके फैले व्यापक प्रभाव ने पूरी दुनिया तथा विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लू.एच.ओ.) का ध्यान ना केवल आकर्षित किया है बल्कि इसके रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठाने और आम नागरिकों को जागरूक रहने के लिए सचेत किया है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, छत्तीसगढ़ 2019 द्वारा नॉवेल कोरोना वायरस के विषय में आम नागरिकों द्वारा पूछे जाने वाले सामान्य सवालों का समाधान किया है

1. 2019 नॉवेल कोरोना वायरस क्या है ?

2019 नॉवेल कोरोना वायरस या एक नया वायरस (विषाणु) जो पहली बार चीन की हुबेई प्रांत के वुहान शहर में पाया गया। इसे नॉवेल या नया इसलिए कहा गया है क्योंकि इसकी पहचान पहले कभी नहीं की गई थी।
2. 2019 नॉवेल कोरोना वायरस का स्रोत क्या है?

अब तक 2019 नॉवेल कोरोना वायरस के संक्रमण के स्रोत की पहचान नहीं की जा सकी है। कोरोना वायरस विषाणुओं को एक बड़ा वंश है जिनमें से कुछ इन्सानों को रोगग्रस्त करते हैं और कुछ पशुओं में घर करते हैं। प्रारंभ में चीन के वुहान शहर में संक्रमित रोगियों का संबंध वहां के बड़े सीफूड और पशु बाजार से पाया गया जिससे यह संकेत मिले है कि इस वायरस विषाणु का स्त्रोत पशु हो सकता है। 
3. 2019 नॉवेल कोरोना वायरस की शुरूआती लक्षण क्या है?

अभी तक 2019 नॉवेल कोरोना वायरस के जो लक्षण पाए गए है उनमें तीव्र बुखार, खांसी और सांस लेने में दिक्कत प्रमुख है। 
4. क्या अभी तक भारत में किसी को यह संक्रमण हुआ हैं?

नहीं। अभी तक भारत में किसी भी केस की पुष्टि नहीं हुई है। भारत में संदिग्ध रोगियों की पहचान सर्वेलेंस से की जा रही है। 
5.यह वायरस कैसे फैलता है?

अभी तक इस वायरस के फैलने के माध्यम, साधन की स्पष्ट जानकारी नहीं है। यह एक नया विषाणु है और संभवतः यह पशुओं से उत्पन्न हुआ और अब यह मनुष्य से मनुष्य में फैल रहा है। 2019 नॉवेल कोरोना वायरस कैसे एक मनुष्य से दूसरे मनुष्य में जाता है यह भी अभी स्पष्ट नहीं है। ऐसा माना जा रहा है कि संक्रमित व्यक्ति के खांसने या छीकनें से यह फैलता है, उसी तरह जैसे सर्दी-जुकाम या फिर श्वास संबंधी रोग का कारण बनने वाले पैथेजन फैलाते हैं।
6. छत्तीसगढ़ सरकार इसके बारे में क्या कर रहीं है?

छत्तीसगढ़ शासन के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा इस संबंध में एडवाइजरी जारी की गई है एवं रायपुर के एयरपोर्ट में कोरोना वायरस लक्षण एवं बचाव का डिस्प्ले किया गया है। रायपुर एयरपोर्ट में हेल्प डेस्क की स्थापना की गई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अंतर्गत राज्य सर्वेलेंस इकाई में हेल्पलाईन नंबर जारी किए गए हैं। राज्य एवं जिला स्तर पर रैपिड रिस्पांस टीम का गठन किया गया है। स्थितियों में सतत निगरानी रखी जा रही हैं वर्तमान में स्थिति लगातार परिवर्तित हो रही है जैसे-जैसे जानकारियां आती जाएंगी साझा किया जाएगा। 
7.भारत सरकार इसके बारे में क्या कर रही है?

भारत सरकार ने 24 x 7 हेल्पलाइन शुरू की है जो इस रोग के बारे में जानकारी देती है। यह नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कण्ट्रोल (एन.सी.डी.सी) नई दिल्ली में स्थापित है। भारत सरकार ने करीब से स्थिति पर निगरानी बनाये रखी है और हर प्रदेश की तैयारी पर भी नजर बनाये रखी है। यह स्थिति क्योंकि पल पल बदल और उभर रही है, भारत सरकार के पास जैसे-जैसे नई जानकारियां आती रहेंगी, उसे सांझा किया जाएगा।
8. क्या 2019 से बचाव के लिए कोई टीका उपलबध है?

अभी तक 2019 कोरोना वायरस से बचाव के लिए कोई टीका वैक्सीन नहीं बना है।
9. मैं खुद को कैसे बचा सकती हूं ?

अभी तक 2019 से बचाव का कोई टीका उपलब्ध नहीं है। इससे बचाव का सबसे अच्छा तरीका इसके संक्रमण से बचना है। चाइना (चीन) या जिन देशों यह रोग पाया गया है, वहां जाने से बचें। व्यक्तिगत स्वच्छता पर ध्यान दें।साबुन से बार-बार हाथ धोएं, खांसते और छींकते समय मुंह को ढक लें, जिन देशों में यह वायरस फैला है उनकी जानकारी विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लू.एच.ओ.)की वेबसाइट डब्लू.डब्लू.डब्लू.डब्लूएचओडॉटआईएनटी (www.who.int) पर उपलब्ध है। 
10. अगर मेरा संपर्क किसी ऐसे व्यक्ति से हुआ हो 2019 कोरोना वायरस से संक्रमित हो तो मुझे क्या करना चाहिए?

खुद की निगरानी कीजिए जिस दिन से संक्रमित व्यक्ति से संपर्क हुआ हो, उस दिन से 28 दिन तक यह करना जरूरी है। कोरोना वायरस के लक्षणों पर भी ध्यान दीजिए।जैसे-ऽ बुखारऽ खांसी-जुकामऽ सांस लेने में परेशानीअगर इन में से कोई भी लक्षण हो तो नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जांच करवाइए और उपचार करवाइए। जिस संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आप आए हों, उसकी जानकारी समीप के स्वास्थ्यकर्मी को दीजिए। 
11. क्या चीन के वुहान शहर या उन देशों में जाना सुरक्षित है जहां इस वायरस का प्रकोप  है?

अगर बहुत जरूरी न हो तो चाइना जाने से बचें और अगर जाना बहुत जरूरी है तो यात्रा एवं स्टे के दौरान एहतियात बरतें।जैसे- ऽ व्यक्तिगत स्वच्छता पर ध्यान देंऽ खुद के स्वास्थ्य की निगरानी करेंऽ अस्वस्थ होने पर चिकित्सक की सलाह लेंऽ अगर यात्रा के दौरान आपकी तबीयत खराब हो जाए तो विमान दल को सूचित करें और मास्क मांग कर पहन लें।
12. कोरोना वायरस के उपचार क्या हैै2019 कोरोना वायरस इन्फेक्शन का अभी तक कोई उपचार नहीं है। अभी तक इससे संक्रमित लोगों को रोग के लक्षण कम करने के लिए उपचार प्रदाय किया जाता है।
13.क्या मुझे 2019 कोरोना वायरस का टेस्ट करवा लेना चाहिए ?

अगर आप में इस रोग के लक्षण है जैसे बुखार, खांसी और सांस लेने में परेशानी तो पास के स्वास्थ्य केन्द्र में जाकर चिकित्सक की सलाह लीजिए। वही तक करेंगें आपकों 2019 कोरोना वायरस के टेस्ट की जरूरत है या नहीं । यह इस पर भी निर्भर करेगा कि आप चाइना या अन्य देश गए थे जहां यह रोग फैला है या फिर आप किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए है अथवा नहीं।

Related Articles

2 Comments

  1. 510994 449180Soon after study a few with the blog articles for your site now, and that i really like your method of blogging. I bookmarked it to my bookmark web site list and are checking back soon. Pls consider my internet web site too and inform me what you consider. 200310

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button