स्वास्थ्य

सिनेमाघर व मल्टीप्लेक्स के साथ जंगल सफारी, नंदनवन और कानन पेंडारी भी बंद

रायपुर.  राज्य शासन द्वारा नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से प्रदेश की जनता को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से राज्य में संचालित सभी सिनेमा घरों तथा मल्टीप्लेक्स में 15 मार्च से 31 मार्च 2020 तक सिनेमा के प्रदर्शन को बंद किए जाने का निर्णय लिया गया है। इस आशय का आदेश आज यहां मंत्रालय महानदी भवन स्थित वाणिज्य कर विभाग द्वारा जारी कर दिया गया है। जारी आदेश के तहत राज्य में स्थित सभी सिनेमा घरों तथा मल्टीप्लेक्स के अनुज्ञप्तिधारियों को निर्देशित किया गया है कि 15 मार्च से 31 मार्च तक अथवा अन्य आदेश पर्यन्त जो भी पहले हो, सिनेमा प्रदर्शन नहीं करेंगे और सिनेमा घरों तथा मल्टीप्लेक्स को बंद रखेंगे। आदेश सरकार की ओर से अवर सचिव वाणिज्यकर मरियानुस तिग्गा ने जारी किया है। कोरोना वायरस की वजह से जंगल सफारी, नंदनवन जू और कानन पेंडारी को बंद करने का आदेश जारी हो गया है। 23 मार्च तक तीनों स्थानों में पर्यटकों की आवाजाही पर प्रतिबंध रहेगा। वन्य प्राणियों को वायरस से बचाने आवश्यक इंतजाम किए जाएंगे। मास्क और हैंड-सैनिटाइजर आवश्यक वस्तु अधिनियम में शामिल भारत के राजपत्र में प्रकाशन के साथ ही 13 मार्च से पूरे देश में लागू कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए भारत सरकार के उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर मास्क और हैंड-सैनिटाइजर को आवश्यक वस्तु अधिनियम-1955 के तहत आवश्यक वस्तुओं की सूची में शामिल किया है। अधिनियम के दायरे में आने के बाद मास्क और हैंड-सैनिटाइजर के उत्पादन, गुणवत्ता, वितरण और लॉजिस्टिक्स (कोविड—19 के प्रबंधन के लिए) को सरकार द्वारा नियंत्रित किया जा सकेगा।

      आवश्यक वस्तु अधिनियम के अंतर्गत हैंड-सैनिटाइजर के साथ 2-प्लाई एवं 3-प्लाई सर्जिकल मास्क तथा एन-95 मास्क को शामिल किया गया है। भारत के राजपत्र में 13 मार्च को इसके प्रकाशन के साथ ही यह पूरे देश में लागू हो गया है। यह अधिसूचना 30 जून 2020 तक प्रभावी रहेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button