कानून-व्यवस्था

शार्ट फिल्म फेस्टिवल के लिए देश विदेश से 637 फिल्मों की प्रविष्टियां

 विधिक जागरूकता पर हाईकोर्ट के ऑडिटोरियम में होगा शार्ट फिल्म फेस्टिवल 21 मार्च से

रायपुर -बिलासपुर, विधिक जागरूकता पर शार्ट फिल्म फेस्टिवल का आयोजन छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यपालक अध्यक्ष जस्टिस प्रशांत मिश्रा के मार्गदर्शन में 21 व 22 मार्च 2020 को हाईकोर्ट के ऑडिटोरियम में किया जा जाएगा। छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में हो रहे शार्ट फिल्म फेस्टिवल में अब तक 54 देशों की 637 एंट्री मिल चुकी है। 5 से 10 मिनट की फिल्मों के लिए चार विषय निर्धारित किये गये हैं। फिल्म फेस्टिवल हेतु जीपीआरएसएस द्वारा तकनीकी सहयोग प्रदान किया जा रहा है।

जुरी के निर्णय के मुताबिक 22 श्रेणियों में पुरस्कार दिए जाएंगे। समाज तक संदेश पहुंचाने के लिए सिनेमा सबसे सशक्त माध्यम है। जिससे लोगों को शीघ्र ही बातों को समझाने में सरलता होती है। देश की आजादी के इतने बरसों के बाद भी अधिकांश लोगों को अपने कानूनी प्रावधानों और अधिकारों की जानकारी नहीं है। आम लोगों को कानूनी प्रावधानों और उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने के लिए राष्ट्रीय और राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण का गठन किया गया था। राज्य में विधिक जागरूकता को लेकर विभिन्न कार्यक्रम संचालित किये जाते हैं।
       फिल्मों के लिए तय किये गये थे चार मुद्दे –  कानूनी जागरूकता पर आधारित देश की पहली शार्ट फिल्म प्रतियोगिता शूट फॉर लीगल अवेयरनेस 2020 के लिए चार विषय तय किये गये थे। इसमें मानव तस्करी, बाल अधिकार, नशामुक्ति और पीड़ितों का पुनर्वास और साइबर क्राइम निर्धारित किये गये हैं। शार्ट फिल्म फेस्टिवल के सीजन-3 के लिए पाकिस्तान, ईरान, अमेरिका, कनाडा, आस्टेªलिया, आस्ट्रिया फिलीपींस,इंडोनेशिया, चिली, कोलंबिया, चेक रिपब्लिक, डेनमार्क, इजिप्ट, फ्रांस, जर्मनी सहित 54 देशों की फिल्में आई हैं। छत्तीसगढ़ से भी बड़ी संख्या में फिल्में भेजी गई हैं। चार विषयों पर 6 केटेगरी में शार्ट फिल्में मंगाई गई थी। इसमें छत्तीसगढी, अंग्रेजी व अन्य भारतीय भाषाएं, सुपर शार्ट्स इन हाउस, गैर प्रतिस्पर्धी श्रेणी और नो  वॉर्डर्स केटेगरी शामिल है। इन हाउस में राज्य और जिला विधिक सेवा प्राधिकरणों की एंट्री शामिल है।
    5 लाख से अधिक के 22 पुरस्कार – भारतीय प्रतियोगियों को 22 पुरस्कार दिए जाएंगे। अंतर्राष्ट्रीय प्रतिभागियों के लिए 2 सम्मान होंगे। छत्तीसगढी में बेस्ट शार्ट फिल्म को 1 लाख और दूसरी को 51 हजार रूपए दिए जाएंगे। इसी तरह हिन्दी, अंग्रेजी और अन्य भारतीय भाषाओं में बेस्ट शार्ट फिल्म को 1 लाख रूपए और दूसरी को 51 हजार रूपए के एक-एक पुरस्कार दिए जाएंगे। बेस्ट सुपर शार्ट्स को 21 हजार, रनर अप को 11 हजार  और सेकेंड रनर अप को 5100 रूपये के पुरस्कार दिए जाएंगे। कानूनी जागरूकता से जुड़े विषयों को रचनात्मक रूप से सहज-सरल तरीके से आम लोगों तक पहुंचाने के लिए शार्ट फिल्म फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है। आयोजन पूरी तरह निःशुल्क है।

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button