कानून-व्यवस्था

सिंचाई कालोनी तोडने की योजना से गृह निर्माण मण्डल पर फूटा गुस्सा

जंगी प्रदर्शन कर कर्मचारियो ने मुख्यमंत्री को मांग पत्र सौपा

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य की राजधानी रायपुर में गृह निर्माण मण्डल द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री स्व.पं.श्यामाचरण शुक्ल द्वारा निर्मित सिंचाई कालोनी को तोड़ने की योजना का विरोध करते हुए, मकान तोड़ने के पूर्व मकान बनाकर कर्मचारियों को देने की धोषणा करने छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मण्डल को 02 दिन का अल्टीमेटन कर्मचारी संघ द्वारा दिया गया था। किंतु तदाशय की धोषणा न करने से नाराज सिंचाई विभाग के कर्मचारियों ने मुख्य अभियंता कार्यालय में भोजनावकाश में धरना प्रदर्शन कर, मुख्यमंत्री को बदनाम करने की नीति की निंदा की गई। प्रदर्शन के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बधेल को संबोधित मांगपत्र मुख्यमंत्री निवास में सौपा गया।
        छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के महामंत्ररी विजय कुमार झा एवं जिला शाखा अध्यक्ष इदरीश खाॅन, अजय तिवारी, ने बताया है कि मुख्यमंत्री को सौपे मांगपत्र में शांतिनगर सिंचाई कालोनाी में पूर्ववर्ती सरकार के गृह निर्माण मण्डल के अधिकारियों की सरकार को बदनाम करने हजारों सरकारी कर्मचारियों को बेधर करने की साजिश को तत्काल रोक लगाने व सिंचाई कालोनी में आवास बनाकर स्व.पं.श्यामाचरण शुक्ल जी की स्मृतियों को अक्षुण्य बनाए रखने, सिंचाई कालोनी का तत्काल राजस्व विभाग से सर्वे कराकर लाखों वर्गफुट़ रिक्त पड़ी भूमि का सर्वे कराकर कर्मचारियों के लिए वहीं पुराने रायपुर में सिटी कोतवाली के 7 माला भवन के अनुरूप भवन निर्माण कराकर उन्हें आवास आबंटित किया जावे, तत्पश्चात् ही तोड़फोड़ की जावे,किसी भी स्थिति में पिरदा-कचना भेजने के गृहनिर्माण मण्डल की साजिश पर रोक लगाने कमल विहार, जैसे अनेक असफल योजना में सरकार को हुई करोड़ों की क्षति को उच्च स्तरीय जाॅच       कराई जावे, आदि शामिल है।

ज्ञातव्य है कि स्व.पं.श्यामाचरण शुक्ल के मुख्यमंत्रित्व काल में सिंचाई योजनाओं को प्रभावी बनाने 1972 में शांति नगर में सिंचाई कालानी का निर्माण कर अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए मध्यप्रदेश में 320 विधानसभा थे, इसलिए 320 शासकीय आवासगृह निर्माण कराया गया था। जिसमें हजारों कर्मचारी व परिवार निवासरत् है। पूर्व में डाॅ.रमन सिंह सरकार द्वारा भी उक्त कालोनी को तोड़कर व्यवसायिक काम्लेक्स बनाने का प्रयास किया गया था, जिसे कर्मचारी संध के विरोध के चलते रोक लगाया गया था। प्रदर्शन का नेतृत्व महामंत्री विजय कुमार झा, प्रांतीय उपापध्यक्ष अजय तिवारी, उमेश मुदलियार, नरेश वाढेर, सुंदर यादव, सी.एल.दुबे. रविराज पिल्ले, विमलचंद्र कुण्डू, अमर मुदलियार, इकबाल शरीफ, दयानंद मुदलियार, रतन सिंह कश्यप, विश्वजीत मल्लिक,
सलीक रजा, नोहर सिंह वर्मा, स्पर्श जार्ज, मुनना लाल चेलक आदि ने कि या ।

Related Articles

3 Comments

  1. 128369 562297We clean up on completion. This may sound obvious but not several a plumber in Sydney does. We wear uniforms and always treat your home or workplace with respect. 948639

  2. 880931 55105Your talent is actually appreciated!! Thank you. You saved me a lot of frustration. I switched from Joomla to Drupal towards the WordPress platform and Ive fully embraced WordPress. Its so a lot easier and easier to tweak. Anyway, thanks again. Awesome domain! 492211

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button