कानून-व्यवस्था

स्टील फैक्ट्री में आयकर छापा; राहुल वेड्स अंजलि के स्टिकर लगाकर पहुंची टीम, 390 करोड़ की संपत्ति बरामद

मुम्बई, महाराष्ट्र के जालना में आयकर विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक स्टील फैक्ट्री से करीब 390 करोड़ की नकदी बरामद की गई है। इसके अलावा बड़ी तादाद में सोने व चांदी के आभूषण भी बरामद किए हैं। खबर लिखे जाने तक आयकर विभाग के कार्रवाई जारी है। सूत्रों के मुताबिक स्टील फैक्ट्री के अभी और अघोषित संपत्ति मिलने की संभावना जताई जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग ने महाराष्ट्र के जालना में 3 अगस्त को एक उद्योगपति के ठिकानों पर छापेमारी की। 3 दिनों तक यह छापेमारी चली। आयकर विभाग ने 58 करोड़ रुपए कैश, 32 किलो सोना, करोड़ों के हीरे समेत लगभग 390 करोड़ रुपए की काली संपत्ति जब्त की है।

आयकर विभाग के अधिकारियों ने 260 अधिकारियों और कर्मचारियों की टीमें बनाईं थी और टीमों को ले जाने के लिए 120 गाड़ियां मंगाई गईं। गाड़ियों पर ‘राहुल वेड्स अंजलि’ का स्टिकर भी लगाए गए थे। सभी अधिकारियों व कर्मचारियों ने फॉर्मल कपड़े पहने। इस कार्रवाई के लिए 400 लोगों की टीम को तैयार किया गया था। जब टीम आयकर छापा मारने गई तो ऐसा लग रहा था जैसे कोई बारात आई है।

मिली जानकारी के मुताबिक महाष्ट्र में सबसे ज्यादा लोहे के यार्ड का उत्पादन करने वाले जालना में इस्पात निर्माताओं के कारखानों, घरों और कार्यालयों में आयकर विभाग ने छापेमारी की। विभाग की ओर से की गई इन छापेमारी में करीब 390 करोड़ रुपये की बेहिसाब संपत्ति की जानकारी सामने आई है। 58 करोड़ रुपए नकद, 32 किलो सोने के आभूषण, 16 करोड़ रुपए के हीरे, मोती और करीब 300 करोड़ रुपए की बेहिसाब संपत्ति जब्त की गई है।

कैश गिनने में टीम को लगे 13 घंटे

खास बात ये है कि छापे के दौरान इतना कैश बरामद हुआ है कि टीम को इससे गिनने में करीब 13 घंटे का समय लगा। आयकर विभाग की औरंगाबाद टीम को मिली जानकारी के मुताबिक जालना की 4 बड़ी स्टील मिलों ने कारोबार से करोड़ों रुपए की सरप्लस आय को पूरी तरह से रिकॉर्ड किए बिना नकद लेनदेन किया है। आयकर चोरी की आशंका के चलते जब छापामार कार्रवाई की गई तो अकूत कालेधन का खुलासा हुआ। छापे के दौरान अधिकारियों को अलमारी के नीचे, बेड में और अलमारी में कुछ बैगों में नकदी मिली। जगह-जगह नोटों के बंडल मिले। इतनी ही राशि एक अन्य व्यवसायी के घर से भी मिली।

Related Articles

Back to top button