कानून-व्यवस्था

बदमाशों के खिलाफ पंचायतों ने खोला मोर्चा ;थाना प्रभारी को सौंपा ज्ञापन 

रायपुर, राजधानी के ग्रामीण इलाके के नवागांव से नारा – टेकारी सड़क मार्ग पर करीबन 3 वर्षों के बाद एक बार फिर असामाजिक तत्व सक्रिय हो चले हैं । बीते 2 व 3 अगस्त की दरम्यानी रात दो युवाओं के साथ मारपीट व कथित लूटमार की घटना के बाद आसपास के ग्रामों के ग्रामीणों सहित राहगीरों में दहशत व्याप्त हो गया है । इस दशहत को दूर करने सतत् पेट्रोलिंग सहित लिप्त अज्ञात तत्वों का पहचान कर ठोस एवं प्रभावी कार्यवाही की मांग को ले आसपास के 5 पंचायतों के सरपंचों ने मंदिरहसौद थाना प्रभारी सहित पुलिस महानिरीक्षक व पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा है ।

 ज्ञापन में जानकारी दी गयी है कि तकरीबन 3 वर्ष पूर्व खासकर सूनसान पड़ने वाले नारा कालेज से टेकारी सड़क मार्ग पर कालेज से खम्हरिया ग्राम के बीच कोल्हान नाला के किनारे असामाजिक तत्वों द्वारा राहगीरों को रोकने व मारपीट तथा लूटमार की घटनाये आये दिन होते रहते थी । इसी दरम्यान इस मार्ग में रात्रि समय एक युवक व उसके स्कूटी को जला देने व आरोपियों के पकड़े जाने के बाद आपराधिक गतिविधियां थम गया था । बीते कुछ दिनों से इस मार्ग में इन गतिविधियों में पुनः बढ़ावा होने व इसी दरम्यान यह घटना घटित होने से क्षेत्र में दहशत व्याप्त होने की जानकारी दी गयी है ।

ग्राम पंचायत नारा के सरपंच हेमंत चंद्राकर , खम्हरिया के सरपंच श्रीमती ललिता  पाटिल की ओर से प्रतिनिधि कौशिक पाटिल  , डिघारी के सरपंच श्रीमती लक्ष्मी सारथी की ओर से प्रतिनिधि राजू सारथी ,पिपरह्ठा के सरपंच वीरसिग वर्मा व टेकारी के सरपंच नंदकुमार यादव ने संयुक्त रूप से किसान संघर्ष समिति के संयोजक भूपेन्द्र शर्मा के साथ मंदिरहसौद थाना जा थाना प्रभारी विरेन्द्र चंद्रा को व पुलिस महानिरीक्षक बी एन मीणा तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल के कार्यालय को ज्ञापन सौंपा है ।श्री चंद्रा ने लिप्त तत्वों की पहचान कर ठोस एवं प्रभावी कार्यवाही के आश्वासन के साथ पुलिसिया पेट्रोलिंग का आश्वासन दिया है ।

ReplyForward

Related Articles

Back to top button