कानून-व्यवस्था

युवक को अगवा कर रेत दिया गला और जंगल में फेंका शव; नक्सली 4 दिन पहले उठाकर ले गए थे

जगदलपुर, बस्तर के बीजापुर जिले में माओवादियों ने पुलिस की मुखबिरी करने के शक में एक ग्रामीण की हत्या कर दी है। ग्रामीण के शव को गांव के नजदीक जंगल में फेंक दिया है। बताया जा रहा है कि माओवादियों ने 4 दिन पहले ग्रामीण का अपहरण किया था। जिसके बाद उन्होंने धारदार हथियार से गला रेत कर वारदात को अंजाम दिया है। फिलहाल पुलिस बल को मौके के लिए रवाना किया गया है। मामला जिले के बांगापाल थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, बांगापाल इलाके के कंवरगांव का रहने वाला ग्रामीण गोपीराम मड़कम 8 अगस्त को बाजार गया हुआ था। उसी दौरान ग्रामीण वेशभूषा में पहुंचे माओवादियों ने गोपीराम का अपहरण कर लिया। 4 दिनों तक उसे जंगल-जंगल घुमाते रहे। फिर गुरुवार की सुबह पुलिस की मुखबिरी के आरोप में धारदार हथियार से गला रेत कर मौत की सजा दे दी। जिसके बाद ग्रामीण के शव को कंवरगांव के नजदीक जंगल में ही फेंक दिया।

ग्रामीणों ने हत्या की जानकारी बांगापाल थाना के जवानों को दी। सूचना मिलते ही जवानों की एक टीम को मौके के लिए भेजा गया है। फिलहाल पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाने की कोशिश में लगी हुई है। इलाके के लोगों से पूछताछ की जा रही है। कुछ दिन पहले भी माओवादियों ने जिले में पुलिस की मुखबिरी करने के आरोप में अलग-अलग थाना क्षेत्रों में 2 ग्रामीणों की हत्या की थी।

Related Articles

Back to top button