विधान सभा

छत्तीसगढ़ में प्रति व्यक्ति आय में 6.35 प्रतिशत की वृद्धि

 आर्थिक सर्वेक्षण: छत्तीसगढ़ में जीएसडीपी विकास दर देश की विकास दर से अधिक रहने का अनुमान
प्रदेश में सकल घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) विकास दर 5.32 प्रतिशत अनुमानित
कृषि क्षेत्र में 3.3 प्रतिशत वृद्धि अनुमानित

रायपुर, छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र में संसदीय कार्य मंत्री रविन्द्र चैबे ने छत्तीसगढ़ राज्य का आर्थिक सर्वेक्षण वर्ष 2019-20 पटल पर रखा। आर्थिक सर्वेक्षण के अनुसार वित्तीय वर्ष 2019-20 में छत्तीसगढ़ राज्य का सकल घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) की विकास दर स्थिर भावों पर 5.32 प्रतिशत अनुमानित है, जो भारत की अनुमानित विकास दर 5 प्रतिशत से अधिक है। इसी प्रकार छत्तीसगढ़ में जीएसडीपी के घटकों की स्थिर भावों पर विकास दर राष्ट्रीय स्तर से अधिक रहने का अनुमान है।

प्रदेश के कृषि एवं सम्बद्ध क्षेत्र में वर्ष 2019-20 में 3.3 प्रतिशत वृद्धि अनुमानित है, जो देश की इस क्षेत्र की विकास दर 2.8 प्रतिशत से अधिक है। इसी प्रकार प्रदेश में औद्योगिक क्षेत्र की विकास दर 4.9 प्रतिशत अनुमानित है, जो अखिल भारतीय वृद्धि दर 2.5 प्रतिशत से तुलनात्मक रूप से बेहतर रहने का अनुमान है। इसी प्रकार सेवा क्षेत्र में 6.6 प्रतिशत की वृद्धि दर अनुमानित है।
जीएसडीपी में स्थिर भाव (वर्ष 2011-12) में प्रदेश के कृषि क्षेत्र की वृद्धि दर 16.81 प्रतिशत अनुमानित है, जबकि देश में इस क्षेत्र की वृद्धि दर स्थिर भावों पर 14.09 प्रतिशत अनुमानित है। प्रदेश की विकास दर में कृषि क्षेत्र का योगदान तीसरे स्थान पर है। इसी प्रकार औद्योगिक क्षेत्र की विकास दर 46.19 प्रतिशत रहने का अनुमान है, जो राष्ट्रीय स्तर की अनुमानित विकास दर 30.57 प्रतिशत से अधिक है। प्रदेश के विकास दर में औद्योगिक क्षेत्र का योगदान प्रथम स्थान पर है। इसी तरह सेवा क्षेत्र की स्थिर भावों पर विकास दर 37 प्रतिशत अनुमानित है। आर्थिक विकास के साथ सेवा क्षेत्र के योगदान में वृद्धि होती है। छत्तीसगढ़ में यह प्रवृत्ति दर्शित हो रही है। 

छत्तीसगढ़ राज्य का सकल घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) के प्रचलित भाव दर पर अनुमान वर्ष 2019-20 में आंकलित 3 लाख 4 हजार करोड़ रूपए से बढ़ाकर वर्ष 2019-20 में 3 लाख 29 हजार करोड़ रूपए अनुमानित है। जो 8.26 वृद्धि होना दर्शाता है। इसी प्रकार जीएसडीपी स्थिर भावों वर्ष 2011-12 पर वर्ष 2018-19 में आंकलित रूपए 2 लाख 31 हजार करोड़ रूपए से बढ़कर वर्ष 2019-20 में 2 लाख 43 हजार करोड़ रूपए अनुमानित है। स्थिर भावों पर इस वर्ष जीएसडीपी विकास दर 5.32 प्रतिशत होना अनुमानित है। आर्थिक सर्वेक्षण के अनुसार राज्य का सकल घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) वर्ष 2018-19 की तुलना में 5.32 प्रतिशत की वृद्धि अनुमानित है। जिसमें कृषि एवं सम्बद्ध क्षेत्र (कृषि, पशुपालन, मत्स्य एवं वन) में 3.31 प्रतिशत, उद्योग क्षेत्र (निर्माण, विनिर्माण, खनन एवं उत्खनन, विद्युत, गैस तथा जल आपूर्ति सहित) में 4.94 प्रतिशत एवं सेवा क्षेत्र में 6.62 प्रतिशत वृद्धि अनुमानित है। 

छत्तीसगढ़ में प्रति व्यक्ति आय वर्ष 2018-19 के त्वरित अनुमान के अनुसार 92 हजार 413 रूपए से बढ़कर वर्ष 2019-20 में 98 हजार 281 रूपए होना अनुमानित है, जो पिछले वर्ष की तुलना में 6.35 प्रतिशत वृद्धि दर्शाता है। छत्तीसगढ़ में 6.35 प्रतिशत प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि दर्ज की गई है, आर्थिक विकास के साथ प्रति व्यक्ति आय में भी वृद्धि होगी।   

Related Articles

3 Comments

  1. 410233 865920I wanted to say Appreciate providing these details, youre performing a great job with the site… 563079

  2. 327516 125237Aw, it was an extremely very good post. In thought I would like to set up writing comparable to this additionally – taking time and actual effort to create a very very good article but exactly what do I say I procrastinate alot and also no means manage to go done. 557389

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button