विधान सभा

छत्तीसगढ़ विधानसभा की कार्यवाही 25 मार्च तक स्थगित

विपक्ष ने किया हंगामा,

रायपुर, छत्तीसगढ़ विधानसभा की कार्यवाही भारी हंगामे के बीच 25 मार्च तक स्थगित कर दी गई। विधानसभा स्थगित होने को लेकर विपक्ष ने हंगामा किया। विपक्ष के विधायक नारेबाजी करने लगे उन्होंने कार्यसूची आसंदी की ओर फेंकी। इस हंगामे के बीच विधानसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही को 25 मार्च तक स्थगित कर दिया है। 26 मार्च को सुबह 11 बजे फिर से सदन की कार्यवाही शुरू होगी।

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि शून्यकाल में सदस्यों को अपनी बात रखने का अधिकार है। इसके पहले विधानसभा में विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि संसदीय इतिहास का ये काला दिन है। संसदीय इतिहास में आज काला अध्याय लिखा जा रहा है। संसदीय कार्य मंत्री ने कार्य मंत्रणा समिति के निर्णय को सदन में पेश किया। 

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कोरोना वायरस को लेकर देश में भयावह की स्थिति होने की बात कहते हुए सदन की कार्यवाही को स्थगित करने की मांग की थी।

सदन की कार्रवाई शुरू जनता कांग्रेस के धर्मजीत सिंह ने कहा कि अफसरों में से किसी ने मास्क नहीं लगाया है, इससे साबित होता है वे इसको वे कोरोना को लेकर कितना गंभीर है। भाजपा सदस्यों ने कहा कि प्रश्नकाल होना चाहिए। उसके बाद कोरोना को लेकर चर्चा हो। भाजपा सदस्य प्रश्नकाल चलने देने की मांग पर अड़े रहे और हंगामा करने लगे।

इस पर अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने कहा कि सदन और मुख्यमंत्री का कक्ष पूरी तरह सेनेटाइज है, इसलिए सदस्य मास्क उतार कर अपनी बात कर सकते हैं। इसके साथ ही सदन में हंगामा होने लगा। भाजपा विधायक अजय चंद्राकर ने कहा कि सदन में गलत परंपरा की शुरुआत हो रही है। आपके संसदीय कार्यमंत्री के कार्यकाल में सदन में किसी भी परंपरा का कोई महत्व नहीं रह गया है। शिवरतन शर्मा ने कहा कि संसदीय कार्य मंत्री रहते हुए वे सारी परम्पराओ को तोड़ रहे हैं।

संसदीय कार्य मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कल ही सार्क देशों के प्रमुखों से कोरोना को लेकर बात की है। महाराष्ट्र विधानसभा में भी छुट्टी घोषित की गई है। केंद्र सरकार बार-बार एडवाइजरी जारी कर रही है। स्वास्थ्य मंत्री ने सदन की कार्यवाही स्थगित करने का जो प्रस्ताव दिया है, उसका हम समर्थन करते हैं। उसे स्वीकार किया जाना चाहिए।

इस पर जनता कांग्रेस के अजीत जोगी ने कहा कि संसद चल रही है। मध्यप्रदेश की विधानसभा भी चल रही है, तो ऐसे में यहां भी सदन चलना चाहिए। जनता कांग्रेस के धर्मजीत सिंह ने कहा कि कार्यसूची में आज प्रश्नकाल के साथ साथ दूसरे विषय भी हैं, तो इसमें दिक्कत क्या है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button