राजनीति

निगमों में उपमहापौर बैठाने की तैयारी

कवायद तेज , विभाग परीक्षण कर रहा

रायपुर। भूपेश सरकार प्रदेश के नगर निगमों में उपमहापौर बैठाने की तैयारी कर रही है , इसके लिए नगरी प्रशासन विभाग विचार विमर्श कर रहा है। इसके पूर्व सरकार ने नगर निगमों की वित्तीय अधिकार भी बढ़ा दिए। हैं।

प्रदेश में 13 नगर निगम है , हाल ही में 10 निगमों के चुनाव हुए है अधिकांश निगम कांग्रेस के कब्जे में है इसी बीच निगमों में उपमहापौर का पद बनाने की तैयारी की जा रही है, ताकि महापौर की गैरमौजूदगी में वे कामकाज संभालेंगे। फिलहाल नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा परीक्षण उपरांत रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्यवाही की जाएगी। निगमों में उपमहापौर बिठाने के लिए कैबिनेट में निर्णय भी लेना पड़ेगा।

नगरी प्रशासन मंत्री डॉक्टर शिव कुमार डहरिया का कहना है कि प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टी. एस. सिंहदेव ने नगर निगमों में उपमहापौर की आवश्यकता बताते हुए यह मांग उठाई है। उनका एक पत्र भी प्राप्त हुआ है। इस पत्र को विभाग को परीक्षण के लिए भेजा गया है। श्री डहरिया ने कहा कि विभाग निगमों में उपमहापौर की आवश्यकता का परीक्षण कर अपनी राय देगा। इसके बाद ही प्रस्ताव तैयार किया जाएगा जिस पर अंतिम निर्णय सरकार लेगी।

उन्होंने कहा कि उपमहापौर बनाने की बात केवल चर्चा है। इस बारे में विभाग सभी विकल्पों पर विचार विमर्श कर अपनी राय देगा,उसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। ज्ञातव्य है कि स्वास्थ्य मंत्री पिछले महीने निगमों में उपमहापौर बनाने की मांग को लेकर एक पत्र नगरी प्रशासन मंत्री को दिया था।

Related Articles

4 Comments

  1. 240197 396016You must consider starting an email list. It would take your website to its potential. 96132

  2. 435679 578189You might uncover effective specific development of any L . a . Weight loss program and each and every you are incredibly important. To begin with level is an natural misplacing during the too significantly weight. shed belly fat 966003

  3. 321889 95609Hey. Neat post. There is actually a problem together with your internet site in firefox, and you may want to check this The browser could be the market chief and a large component of other folks will omit your superb writing because of this dilemma. 805531

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button