राज्य प्रशासन

खुल सकती हैं शराब दुकानें, चार सदस्यीय समिति बनी

रायपुर, लाकडाउन के चलते छत्तीसगढ़ की बंद शराब दुकानें जल्द खुल सकती हैं। जिस तरह शराब नहीं मिलने पर स्पिरिट का सेवन करने और आत्महत्या जैसा कदम उठाने घटनाएं सामने आ रही हैं , उसे ध्यान में रखते हुए शराब दुकानों के संचालन के लिए छत्तीसगढ़ शासन ने चार सदस्यीय समिति बनाई गई है।

आबकारी विभाग के विशेष सचिव के हस्ताक्षर से आज एक आदेश निकला है, जिसमें कहा गया है कि वर्तमान में लॉकडाउन के दौरान मदिरा के विक्रय को प्रतिबंधित किया गया है। समाचार पत्रों तथा मीडिया रिपोर्ट से प्राप्त जानकारी के अनुसार मदिरा की अनुपलब्धता के फलस्वरुप मदिरा प्रेमियों व्दारा अवैध मदिरा के उपभोग के कारण राज्य में लोगों की मत्यु हुई है। जिलों में मदिरा प्रेमियों व्दारा आत्महत्या की गई है अथवा आत्महत्या का प्रयास किया गया है। कई मदिरा दुकानों से मदिरा प्रेमियों व्दारा चोरी कर मदिरा का उपभोग किए जाने के समाचार भी प्राप्त हुए हैं। उपरोक्त स्थिति को ध्यान में रखते हुए तथा भविष्य में होने वाली जान माल की हानि को रोकने की दृष्टि से शासन व्दारा मदिरा दुकानों को प्रारंभ करने की कार्यवाही की जा रही है।

इस संबंध में मदिरा दुकानों के संचालन के लिए आवश्यक निर्देश तथा प्रत्यायोजन हेतु निम्नानुसार समिति गठित की जाती है- अनिमेष नेताम उप महाप्रंधक, सीएसएमसीएल मुख्यालय अध्यक्ष, शिशिर रायजादा तकनीकी निर्देशक एनआईसी सदस्य , श्रीनिवास मुदलियार वित्तीय सलाहकार सीएसएमसीएल सदस्य एवं अरविंद पाटले उप महाप्रबंधक सीएसएमसीएल जिला दुर्ग सदस्य।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button