राज्य प्रशासन

बस्तर में स्कूल व आश्रम-छात्रावासों को व्यवस्थित करें -डा प्रेमसाय

जिला खनिज संस्थान न्यास शासी परिषद की बैठक में अधिकारियों को दिए निर्देश

रायपुर , स्कूली शिक्षा, आदिम जाति कल्याण विभाग और बस्तर जिले के प्रभारी मंत्री डाॅ. प्रेम साय सिंह टेकाम नेे जिला खनिज संस्थान न्यास निधि की राशि से बस्तर जिले के प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से खनन से प्रभावित क्षेत्रों के स्कूल, आश्रम, छात्रावासों एवं अस्पतालों में मानवीय संसाधनों के अलावा अधोसंरचना से जुडे़ सभी व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

मंत्री डाॅ. टेकाम ने आज कलेक्टोरेट जगदलपुर के आस्था कक्ष में आयोजित जिला खनिज संस्थान न्यास शासी परिषद की बैठक मे संबंधित विभाग के अधिकारियों को इस आशय के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा की शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल राज्य शासन के विशेष प्राथमिकताओं मे शामिल है, इसलिए खनिज न्यास निधि के राशि का सदुपयोग करते हुए इन क्षेत्रों मे इसका समुचित उपयोग करने के निर्देश दिए हैं।
मंत्री डाॅ. टेकाम ने बस्तर जिले के फ्लोराईड प्रभावित ग्रामों मे शुध्द पेयजल की उपलब्धता के संबंध मे जानकारी लेते हुए इन ग्रामों मे शीघ्र शुध्द पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित कराने को कहा। बैठक मे सांसद बस्तर दीपक बैज, बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, रेखचंद जैन, श्री चंदन कश्यप, विधायक चित्रकोट, राजमन वेंजाम महापौर श्रीमती सफीरा साहू सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
बैठक में डाॅ. टेकाम ने जिले के आश्रम छात्रावास एवं स्कूलों मे भवन की समुचित उपलब्धता के अलावा बाउण्ड्रीवाल, शुध्द पेयजल, छात्र-छात्राओं की संख्या के आधार पर पलंग, गद्दा चादर, आदि की उपलब्धता के अलावा अन्य बुनियादी सुविधाओं की विस्तृत समीक्षा की। डाॅ. टेकाम ने महारानी अस्पताल जगदलपुर एवं जिले के अन्य चिकित्सालयों मे चिकित्सकों तथा मैदानी अमले के अधिकारी-कर्मचारियों की नियुक्ति के लिए भी इस राशि का उपयोग करने  कहा। उन्होंने जिले के सुदूर वनांचल एवं पहुंच विहीन ग्रामों मे खनिज न्यास निधि से बनाए जा रहे स्टाप डेम, पुल-पुलिया के निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए, निर्माण कार्यों मे गुणवत्ता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
उन्होंने इन सभी निर्माण कार्यों में गुणवत्ता सुनिश्चित करते हुए निर्माण कार्यों को समय सीमा मंे पूरा करने के निर्देश दिए। जिला खनिज संस्थान न्यास शासी परिषद की बैठक में वर्ष 2018-19 की आॅडिट रिपोर्ट, पूर्व कार्ययोजना के आधार पर स्वीकृत कार्यों की सूची और नवीन कार्यों का अनुमोदन भी किया गया।

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button