कृषि विज्ञान केन्द्र ने बायो-फोर्टिफाइड धान के बीज वितरित किये

नारायणपुर, जिले में संचालित बॉयोटेक किसान हब परियोजना जो कि जैव तकनीकी…

छत्तीसगढ़ में अब बच्चों को निःशुल्क लगेगी न्युमोकोकल वैक्सीन, नियमित टीकाकरण में शामिल

रायपुर, छत्तीसगढ़ में नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के तहत बच्चों को अब न्युमोकोकल…

भाजपा हमलावर हुई तो अपने पदाधिकारियों को अपडेट कर रही कांग्रेस, राजीव भवन में शुरू हुआ कांग्रेसियों का प्रशिक्षण

रायपुर, विधानसभा चुनाव 2023 की चुनौतियाें से निपटने की तैयारियों में जुटी…

निगम-मंडल में नियुक्तियों पर मतांतर;सीएम ने कहा – कुछ नामों पर चर्चा हुई, इनको जल्दी पद मिलेंगे, पुनिया ने कहा था-नाम पर फाइनल मुहर सोनिया गांधी लगाएंगी

रायपुर, सरकार बनने के ढाई साल बाद तक निगम-मंडलों में नियुक्तियों का…

यूनिसेफ एवं एमिटी विवि.ने बाल संरक्षण और आदिवासी विकास हेतु किया एमओयू

रायपुर/ छत्तीसगढ़ में बच्चों, महिलाओं और आदिवासी विकास पर सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस स्थापित करने के लिए, यूनिसेफ और एमिटी विश्वविद्यालय, छत्तीसगढ़ (एयूसी), ने आज MoU पर हस्ताक्षर किये। यह सेण्टर  छत्तीसगढ़ में बाल स्वास्थ्य, शिक्षा, पोषण, साफ़ पानी, स्वच्छता में सुधार और बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तकनीकी ज्ञान को बढ़ावा देने और संस्थानों-कर्मियों की क्षमता निर्माण करने में मदद करेगा। यूनिसेफ छत्तीसगढ़ के प्रमुख श्री जॉब ज़करिया ने कहा कि एमिटी यूनिवर्सिटी के साथ इस साझेदारी से हमें नवाचारों, इन्क्यूबेशन सेंटर्स, स्टार्टअप और बिग डेटा एनालिटिक्स के ज़रिये चुनौतियों का समाधान करने  और लोगों के जीवन में,खासकर आदिवासी क्षेत्रों में, सकारात्मक बदलाव लाने में मदद मिलेगी “इस साझेदारी के माध्यम से छत्तीसगढ़ सरकार के कार्यक्रमों की योजना और निगरानी में सहायता प्रदान की जाएगी। सबसे पहले, राज्य के हर ग्रामीण घर में नल कनेक्शन के ज़रिये जल आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु शुरू किये गए जल जीवन मिशन की निगरानी में छत्तीसगढ़ शासन की मदद की जाएगी। एमओयू के तहत युवा  सशक्तिकरण  और युवाओं के कौशल विकास के क्षेत्र में भी प्रयास किये जाएंगे” श्री ज़करिया ने कहा। एमिटी विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़ के कुलपति डॉ राजेंद्र कुमार पांडे ने कहा कि विश्वविद्यालय मध्य भारत में नवाचार, ज्ञान और सीखने का एक प्रमुख केंद्र है।उन्होंने कहा,”यूनिसेफ के साथ समझौता ज्ञापन (MoU) के तहत  हम छत्तीसगढ़ में अनुसंधान, प्रौद्योगिकी, प्रबंधन और साक्ष्य निर्माण की जरूरतों को पूरा करेंगे।”इस कार्यक्रम में एमिटी बिजनेस स्कूल की निदेशक डॉ सुमिता दवे और यूनिसेफ विशेषज्ञ श्वेता पटनायक सहित अन्य लोगों उपस्थित थे।

बार्डर पर तेंदुआ खाल समेत गिरफ्तार; सौदा करने ले जा रहा था आरोपी

धमतरी, वन्य प्राणी तेंदुआ की खाल की तस्करी करते हुए आरोपी पुलिस…

कलेक्टर बंगले में सांप ने स्टाप को काटा; जिला अस्पताल में भर्ती

दुर्ग, जिला कलेक्टर डॉक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे के बंगले में सर्पदंश की…

4 साल से अटका गाेगांव ब्रिज,लोक निर्माण मंत्री ने ठेकेदार को दिसम्बर तक कार्य पूर्ण करने दिए निर्देश

रायपुर, लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू ने आज राजधानी रायपुर के निर्माणाधीन…

दिल्ली में आज से लगेगी स्पूतनिक वैक्सीन, 94.3 प्रतिशत तक असरदार

नई दिल्ली, देश में कोरोना महामारी से लड़ने के लिए वैक्सीनेशन अभियान…

बोर्ड आफ डायरेक्टर की मीटिंग में फैसला;किस्त अदा नहीं करने वालों से 15% सरचार्ज नहीं लेगा आरडीए

रायपुर, कोरोना लॉकडाउन में किस्त अदा नहीं करने वालों से रायपुर विकास…